KCC Loan in Hindi किसान क्रेडिट कार्ड क्या है Kisan Credit Card in Hindi किसान क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी 2024

KCC Loan in Hindi: किसान क्रेडिट कार्ड क्या है? | Kisan Credit Card in Hindi | किसान क्रेडिट कार्ड के बारे में जानकारी 2024

KCC Loan in Hindi: किसान क्रेडिट कार्ड क्या है? (Kisan Credit Card in Hindi 2024) | किसान क्रेडिट कार्ड से जुड़ी खबरें

कवर किए गए टॉपिक्स

नमस्कार दोस्तों, Loan App Reviews में आपका स्वागत है, दोस्तों आज की पोस्ट में हम KCC Loan in Hindi: किसान क्रेडिट कार्ड क्या है? (Kisan Credit Card in Hindi 2024) के बारे में जानेंगे, इसलिए आपको इस पोस्ट को अंत तक पढ़ना होगा ताकि आप इसे अच्छी तरह से समझ सकें।

व्यापक कृषि और उससे उत्पन्न लाभों के लिए, किसानों को अक्सर बड़ी राशि की आवश्यकता होती है, जो वे आमतौर पर स्वयं जुटा नहीं सकते हैं। इस समस्या का समाधान करने के लिए, केंद्र सरकार ने 1998 में एक योजना शुरू की थी, जिसका नाम किसान क्रेडिट कार्ड (KCC Loan in Hindi) है। इसका मुख्य उद्देश्य किसानों को फाइनेंसियल सहारा प्रदान करना है ताकि वे सही तरीके से कृषि कर सकें और उससे उचित लाभ उठा सकें।

KCC Loan in Hindi
आर्टिकल का नाम KCC Loan in Hindi
लोन का प्रकार कृषि लोन
लोन का नाम किसान क्रेडिट कार्ड लोन

उन किसानों को जो नहीं जानते कि किसान क्रेडिट कार्ड क्या है (KCC Loan in Hindi) और इसके लाभ, उन्हें इस योजना को सही से समझना चाहिए, क्योंकि यह उनके लिए कई तरह के फायदेमंद है।

किसान क्रेडिट कार्ड क्या है? (What is KCC in Hindi)

भारत सरकार की एक पहल, किसान क्रेडिट कार्ड स्कीम (Kisan Credit Card Scheme) एक योजना है जो किसानों को समय पर लोन प्रदान करने का कारगर तरीका है। 1998 में शुरू की गई इस ‘किसान क्रेडिट कार्ड (KCC loan in hindi)‘ योजना का उद्देश्य किसानों को शार्ट टर्म औपचारिक लोन प्रदान करना था, और इसे ‘राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास के लिए राष्ट्रीय बैंक’ (NABARD) द्वारा बनाया गया था।

KCC योजना ने सुनिश्चित किया कि कृषि, मत्स्य पालन, और पशुपालन क्षेत्र में किसानों की लोन आवश्यकताएं पूरी होती रहें। इसने उन्हें शार्ट टर्म लोन प्राप्त करने, उपकरण खरीदने, और अन्य खर्चों के लिए क्रेडिट सीमा प्रदान करने में मदद करने का कारगर तरीका प्रदान किया है।

KCC के माध्यम से, किसानों को बैंकों द्वारा प्रदान की जाने वाली नियमित लोनों पर उच्च ब्याज दरों से मुक्ति मिलती है, क्योंकि KCC की ब्याज दरें 2% से शुरू होती हैं और औसत 4% होती हैं। इस योजना की सहायता से, किसान अपनी फसल की कटाई के आधार पर अपना लोन चुका सकता है जिसके लिए लोन प्रदान किया गया था।

किसान क्रेडिट कार्ड कार्य कैसे करता है? (How does Kisan Credit Card work)

अधिकांश सरकारी योजनाओं का मुख्य उद्देश्य किसानों को सिंचाई, उपकरण, और मशीनरी खरीदने जैसी बड़ी लोन आवश्यकताओं का समर्थन करना है, लेकिन इसके परे, किसानों को अपने दैनिक खर्चों को पूरा करने में भी कठिनाई होती है। किसान क्रेडिट कार्ड नकद लोन सुविधा के माध्यम से ऐसी शार्ट टर्म आवश्यकताओं के लिए सुलभ फाइनेंसियल सहायता प्रदान करता है। इसके साथ ही, KCC धारकों को सावधि लोन भी प्रदान किए जाते हैं, जो उन्हें बड़ी फाइनेंसियल समर्थन प्रदान करने में मदद करते हैं।

कई कमर्शियल बैंक, सहकारी बैंक, और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक (RRB) किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान करते हैं। KCC विशिष्ट क्रेडिट सीमा के साथ आता है, जिसे बैंक आवेदक की ज़मीन की खेती, आनुमानित फसल की उपज, और फाइनेंसियल आवश्यकताओं के आधार पर तय करता है। यह सीमा बढ़ाई जा सकती है यदि कार्डधारक एक जिम्मेदार उधारकर्ता हो और वह अधिक फाइनेंस प्राप्त करना चाहता है।

किसान क्रेडिट कार्ड दो प्रकार के होते हैं? (There are two types of Kisan Credit Cards)

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत, दो प्रकार की वित्तीय सहायता ली जा सकती है।

कैश क्रेडिट लोन (Cash Credit Loan):

यह एक शार्ट टर्म फाइनेंसियल स्रोत के रूप में बैंक के लिए प्रदान किया जाता है। कार्डधारक अपने किसान क्रेडिट कार्ड की सीमा का उपयोग करके छोटी कृषि आवश्यकताओं के लिए धन जुटा सकते हैं और इसे बाद में पूरा करने का विकल्प चुन सकते हैं या फिर ईएमआई में बदल सकते हैं। KCC का उपयोग करके, कार्डधारक बीज, उर्वरक, और मशीनरी के लिए ईंधन खरीदने के लिए फाइनेंस प्राप्त कर सकते हैं। वे इस कार्ड का उपयोग करके सीधे व्यापारी पीओएस टर्मिनल पर भी भुगतान कर सकते हैं।

सावधि लोन (Term Loan):

बैंक किसान क्रेडिट कार्ड पर सावधि लोन प्रदान करते हैं जिससे किसानों को उपकरण खरीद, सिंचाई लागत, और अन्य बड़ी कृषि आवश्यकताओं की सहायता होती है। इस लोन को प्राप्त करने से पहले, आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि “KCC loan in hindi” लोन क्या है। लोन की मात्रा बैंक से बैंक विभिन्न हो सकती है, और नियम और शर्तें भी विभिन्न हो सकती हैं। कई बार, उधारकर्ता को इस लोन के लिए संपार्श्विक (collateral) गिरवी रखने की आवश्यकता हो सकती है।

केसीसी ऋण ब्याज दर कैलकुलेटर (KCC Loan Interest Rate Calculator)

KCC Loan Interest Rate Calculator: यदि आपने 3 लाख रुपये तक का KCC लोन लिया है, तो आपको KCC ब्याज दर के बारे में जानकारी होना चाहिए। यह ध्यान देने वाली बात है कि आपने लोन लेने की तिथि को याद रखना होगा। एक वर्ष पूरा होने से पहले, आपको ब्याज के साथ पूरा लोन जमा करना होगा (जल्दी जमा करने पर आप अगले दिन पुनः लोन लेने के लिए पात्र हो जाएंगे)।

यदि आप इसे करते हैं, तो सरकार द्वारा प्रदान की गई 3 लाख रुपये तक के लोन में 3% की ब्याज में छूट मिलती है। यह देश का सबसे सस्ता लोन है। किसान क्रेडिट कार्ड पर कुल 9% ब्याज दर होती है, जिसमें से 2% सब्सिडी केंद्र सरकार द्वारा दी जाती है। इसके अलावा, यदि आप समय से पहले ही लोन जमा कर देते हैं, तो आपको 3% अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि भी मिलती है। इस प्रकार, सही समय पर जमा करने की स्थिति में, 3 लाख रुपये तक के KCC लोन पर केवल 4% ब्याज ही देना होता है।

अगर आपको KCC लोन इंटरेस्ट रेट कैलकुलेट करने कोई दिक्कत आ रही होतो तो आप KCC Loan Interest Rate Calculator का उपयोग कर सकते हैं उपयोग करने के लिए यहां पर क्लिक करें |

इसे भी पढ़िए: केसीसी ऋण की ब्याज कैलकुलेटर कैसे निकाले

किसान क्रेडिट कार्ड के फायदे और विशेषताएं (Kisan Credit Card Benefits and Features in Hindi)

फसल कटाई के बाद के खर्चों के साथ-साथ कृषि और अन्य संबद्ध गतिविधियों की फाइनेंसियल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए किसानों को विभिन्न प्रकार के लोन प्रदान किए जाते हैं।

  • कृषि आवश्यकताओं के लिए निवेश लोन, जैसे की डेयरी पशु, पंप सेट, आदि।
  • इस योजना के अंतर्गत, किसान 3 लाख रुपये तक का लोन प्राप्त कर सकते हैं और उपज मार्केटिंग लोन भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • विकलांगता या मृत्यु की स्थिति में, KCC योजना धारकों के लिए 50,000 रुपये तक का बीमा कवर प्रदान करती है, जबकि अन्य जोखिमों में 25,000 रुपये का कवर दिया जाता है।
  • इस योजना के तहत पात्र किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड के अलावा स्मार्ट कार्ड और डेबिट कार्ड के साथ आकर्षक ब्याज दर वाला बचत खाता भी प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना में, एक्सिबल पुनर्भुगतान विकल्प और तंगी मुक्त डिस्बर्समेंट प्रक्रिया भी शामिल हैं।
  • सभी कृषि और सहायक आवश्यकताओं के लिए KCC योजना धारकों को एकल लोन सुविधा/सावधि लोन दिया जाता है।
  • फर्टिलाइजर्स, बीज आदि की खरीद के साथ-साथ व्यापारियों/डीलरों से नकद छूट प्राप्त करने में सहायता प्रदान करना भी इस योजना में शामिल है।
  • इस योजना के तहत, लोन 3 वर्ष तक के लिए उपलब्ध है और फसल का मौसम समाप्त होने पर पुनर्भुगतान किया जा सकता है।
  • इस योजना में 1.60 लाख रुपये तक के लोन के लिए किसी सिक्यूरिटी की आवश्यकता नहीं होगी।

भारत में किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान करने वाले शीर्ष बैंक

Kisan Credit Card Banks
क्रेडिट कार्ड क्रेडिट लिमिट अधिकतम कार्यकाल
Axis किसान क्रेडिट कार्ड रु. 2.50 लाख तक (कार्ड पर लोन के रूप में) नकद लोन के लिए 1 वर्ष तक और सावधि लोन के लिए 7 वर्ष तक
BOB किसान क्रेडिट कार्ड किसान की अनुमानित आय का 25% तक (लेकिन 50,000 रुपये से अधिक नहीं) एन/ए
SBI किसान क्रेडिट कार्ड फसल की खेती और फसल पैटर्न के आधार पर 5 साल
HDFC किसान क्रेडिट कार्ड 3 लाख रुपये तक की क्रेडिट सीमा 5 साल

किसान क्रेडिट कार्ड पात्रता (Kisan Credit Card Eligibility in Hindi)

KCC Loan के लिए पात्रता मानदंड या योग्यता निम्नलिखित प्रकार हैं:

व्यक्तिगत किसान:
यह योजना किसी भी व्यक्तिगत किसान के लिए उपयुक्त है, जो मालिक-कृषक है।

समूह संबंधित किसान:
एक समूह से संबंधित और संयुक्त उधारकर्ता होने वाले लोग भी इस योजना से लाभ उठा सकते हैं। समूह का मालिक-कृषक होना अनिवार्य है।

शेयरक्रोपर्स, किरायेदार किसान या मौखिक पट्टेदार:
शेयरक्रोपर्स, किरायेदार किसान या मौखिक पट्टेदार भी KCC के लिए पात्र हैं।

सेल्फ हेल्थ ग्रुप (SHG) या जॉइंट लायबिलिटी ग्रुप (JLG):
किसानों, किरायेदार किसानों, शेयरक्रोपर्स आदि के लिए सेल्फ हेल्थ ग्रुप (SHG) या जॉइंट लायबिलिटी ग्रुप (JLG) भी पात्र हैं।

गैर-कृषि गतिविधियों में शामिल:
फसल उत्पादन या पशुपालन के साथ-साथ, मछुआरों जैसी गैर-कृषि गतिविधियों में भी शामिल होना चाहिए।

फिशरीज़ और पशुपालन के तहत पात्र:
इनलैंड फिशरीज और जलीय कृषि से जुड़े व्यक्ति, मछुआरे, एसएचजी, जेएलजी, और महिला समूह इस कार्ड के पात्र हैं। लाभार्थी को फिशरीज़ से संबंधित गतिविधियों का स्वामित्व या लीज होना चाहिए।

समुद्री फिशरीज़:
एक पंजीकृत नाव या मछली पकड़ने वाली अन्य नाव के मालिक जो मुहाने या समुद्र में मछली पकड़ने के लिए आवश्यक लाइसेंस या अनुमति है, वे इस योजना के लाभार्थी हैं।

पोल्ट्री:
व्यक्तिगत किसान, संयुक्त उधारकर्ता, एसएचजी, जेएलजी, और किराएदार किसान जो शेड के स्वामित्व, किराए या लीज पर बकरी, खरगोश, सूअर, पक्षी, मुर्गी पालन करते हैं, वे KCC के लिए पात्र हैं।

डेयरी:
किसान, डेयरी किसान, एसएचजी, जेएलजी, और किरायेदार किसान जो शेड के मालिक हैं, लीज पर देते हैं या किराए पर लेते हैं, वे इस योजना के लाभार्थी हैं।

यह भी पढ़े : 👇

किसान क्रेडिट कार्ड के दस्तावेजों की आवश्यकता (Kisan Credit Card Documents)

  1. योग्यता पूर्ण और सहीत हस्ताक्षरित आवेदन पत्र।
  2. आधार कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, आदि जैसे पहचान प्रमाण पत्र की प्रतिलिपि।
  3. पते के प्रमाण दस्तावेज की प्रतिलिपि जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, आदि। आवेदक का वर्तमान पता वैध होने के लिए।
  4. जमीन के दस्तावेज।
  5. आवेदक का एक पासपोर्ट आकार का फोटो।
  6. सुरक्षा पीडीसी जैसे अन्य दस्तावेज़ जो बैंक द्वारा अनुरोधित किए गए हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे? (Kisan Credit Card Online Apply)

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन प्रक्रिया को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से पूरा किया जा सकता है।

ऑनलाइन:

  • उस बैंक की वेबसाइट पर जाएं, जिसमें आप किसान क्रेडिट कार्ड योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं। या फिर आप jansamarth.in वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • ‘Check Eligibility’ पर क्लिक करे।
  • उसके बाद एक आपको फॉर्म दिखाई देगा आपको वह फॉर्म भरना है.
  • उसके बाद आपको जो भी इनफॉरमेशन मांगी जाए और आपको वह सब भरना है उसके बाद आपको स्टेप बाय स्टेप फार्मा भरना है।
  • आवश्यक विवरण भरें और ‘Submit’ पर क्लिक करें।
  • इसके बाद, आपको एक एप्लीकेशन रेफरेंस नंबर प्राप्त होगा।
  • आपको रेफरेंस नंबर का प्रिंट निकाल लेना है।
  • रेफरेंस नंबर का प्रिंट और साथ में सभी दस्तावेज लेकर अपने बैंक में जाना है।
  • यदि आप पात्र हैं, तो बैंक आपसे 3-4 कार्य दिवसों के भीतर आगे की प्रक्रिया के लिए संपर्क करेगा।

ऑफलाइन:

आवेदन प्रक्रिया को अपनी विशेष बैंक की शाखा में निपटाया जा सकता है या बैंक की आधिकारिक वेबसाइट से आवेदन पत्र डाउनलोड करके भी पूरा किया जा सकता है। आवेदक बैंक शाखा में जा सकते हैं और बैंक प्रतिनिधि की मदद से आवेदन प्रक्रिया आरंभ कर सकते हैं। एक बार औपचारिकताएं पूरी होने पर, बैंक का लोन अधिकारी किसान को उपलब्ध लोन राशि के लिए मदद करने में सक्षम हो सकता है।

FAQs on KCC Loan in Hindi:

1. किसान क्रेडिट कार्ड कैसे बनवाएं?

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए आपको अपने स्थानीय बैंक में जाना होगा और आवश्यक दस्तावेज साथ में लेकर आवेदन प्रक्रिया को पूरा करना होगा।

2. किसान क्रेडिट कार्ड धारक की मृत्यु होने पर?

किसान क्रेडिट कार्ड धारक की मृत्यु होने पर, उसके उत्तरजीविता उपायों के लिए बैंक से संपर्क करना सुझाया जाता है।

3. किसान क्रेडिट कार्ड का पैसा माफ होगा या नहीं? (KCC Loan Mafi)

किसान क्रेडिट कार्ड के पैसे की माफी बैंक की नीतियों और कानूनी प्रावधानों पर निर्भर करती है। इसके बारे में जानकारी के लिए आपको अपने बैंक से संपर्क करना चाहिए।

4. किसान क्रेडिट कार्ड कितनी जमीन चाहिए?

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए जमीन की आवश्यकता बैंक और राज्य सरकार की नीतियों पर निर्भर करती है। सामान्यत: छोटे और सीमांत किसानों को भी इसका लाभ हो सकता है।

5. किसान क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन अप्लाई?

हाँ, किसान क्रेडिट कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। आपको बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन प्रक्रिया को पूरा करना होगा।

6. किसान क्रेडिट कार्ड के नुकसान?

किसान क्रेडिट कार्ड के नुकसान के लिए सबसे बेहतर है कि आप बैंक से संपर्क करें और उनसे सहारा प्राप्त करें।

7. किसान क्रेडिट कार्ड हेल्पलाइन नंबर?

आपके बैंक के कस्टमर केयर या हेल्पलाइन 0120-6025109 / 155261 नंबर से जुड़कर किसान क्रेडिट कार्ड से संबंधित किसी भी सहायता की जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

8. किसान क्रेडिट कार्ड पर ब्याज दर?

किसान क्रेडिट कार्ड पर ब्याज दर बैंक द्वारा निर्धारित की जाती है और यह ब्याज दर बैंक की नीतियों और आर्थिक बाजार की स्थिति पर निर्भर करती है। इसके लिए बैंक से संपर्क करना सुझाया जाता है।

इसे भी पढ़िए:

  1. 2 मिनट में Truecaller App से पर्सनल लोन ऑनलाइन
  2. नवी पर्सनल लोन ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Exit mobile version